Mujaffarpur

सुरक्षित दादा-दादी, नाना-नानी अभियान की शुरुआत

  • वृद्ध लोगों को मिलेगी कोरोना वायरस की जानकारी
  • अभी तक 285 लोगों को किया गया है फोन
  • अभियान को जोड़ा जाएगा नेहरू युवा केन्द्र से

मुजफ्फरपुर। 17 जुलाई

मुजफ्फरपुर जिले में नीति आयोग के द्वारा “सुरक्षित दादा-दादी, नाना-नानी” अभियान के तहत लोगों को जागरूक किया जा रहा है।इसके लिये आईसीडीएस डीपीओ को नोडल पदाधिकारी बनाया गया है।उन्होंने बताया कि इस अभियान के तहत खास कर बुजुर्गों को जिनकी उम्र 60 वर्ष या उससे अधिक है उन्हें कोरोनावायरस से संबंधित सभी जानकारी और संभावित मदद दी जा रही है। मालूम हो कि नीति आयोग ने कोविड-19 के दौरान वरिष्ठ नागरिकों को सुरक्षित रखने के लिए एक अभियान शुरू किया है जिसका नाम दादा दादा- दादी ,नाना -नानी अभियान रखा गया। इस अभियान का उद्देश्य कोविड-19 महामारी के दौरान वरिष्ठ नागरिकों की देखभाल सुरक्षित करना है।इस अभियान के द्वारा कोविड-19 के मद्देनजर वरिष्ठ नागरिकों की देखभाल सुनिश्चित करने के लिए निवारक उपायों के साथ-साथ वरिष्ठ नागरिकों के स्वास्थ्य और जीवन शैली जैसे विभिन्न पहलुओं के बारे में जागरूकता बढ़ाई जाएगी । इसमे भारत क़े 28 ज़िले शामिल हैं।मुजफ्फरपुर ज़िले में जिला पदाधिकारी के सहयोग से इस अभियान की शुरुआत की गई है ताकि कोरोना को हम हरा सकें और बड़े बुजुर्गों की मदद कर सकें।

इस संबंध में आज जिलाधिकारी डॉ० चंद्रशेखर सिंह की अध्यक्षता में सभाकक्ष में एक बैठक आहूत की गई । बैठक में उक्त अभियान को मूर्त रूप देने के मद्देनजर कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए । निर्णय लिया गया कि जिला स्तर पर इस अभियान के साथ नेहरू युवा केंद्र को जोड़ा जाएगा। अनुमंडल स्तर पर एनजीओ के प्रतिनिधियों के मार्गदर्शन में बुनियाद केंद्र के कर्मी इसमें सहयोग करेंगे। जबकि ग्राम स्तर पर जीविका दीदियों की सहभागिता इसमें सुनिश्चित की जाएगी। इसमें वरिष्ठ नागरिकों की समस्याओं के समाधान हेतु जिला स्तर पर एक दूरभाष नंबर कार्य करेगा जिसमें जिले के वरिष्ठ नागरिक अपनी समस्याओं के समाधान हेतु उस दूरभाष नंबर पर अपनी बात रख सकेंगे ।अभी तत्कालिक रूप से आपदा संचालन केंद्र का दूरभाष नंबर 0621-22 12007 पर फोन किया जा सकता है। इस संबंध में जिलाधिकारी डॉ० चंद्रशेखर सिंह ने बताया कि नीति आयोग तथा संबंधित एनजीओ के सहयोग से चलाए जा रहे ,उक्त अभियान के द्वारा कोरोना जैसी वैश्विक महामारी में सीनियर सिटीजन की सुरक्षा और उनके देखभाल को लेकर महत्वपूर्ण भूमिका निभाया जाएगा। इसके लिए जिला प्रशासन के द्वारा सम्बंधित विभागों को निर्देश दिए गए है।प्लान इंडिया के जिला प्रतिनिधि सूचन्द्रा ने बताया कि कोरोना वायरस बुजुर्गों में अपना असर जल्दी दिखाता है। इसलिए इस अभियान को बुजुर्गों के लिए खासतौर पर चलाया जा रहा है जिसमें उन्हें सभी जानकारी साथ ही उनके जीवन शैली और दिनचर्या के बारे में जानकर उनकी मदद की जा रही है। स्वयंसेवको के द्वारा
अब तक 285 बुजुर्गों को फोन किया गया है।वहीं इस अभियान के नोडल पदाधिकारी आईसीडीएस की ललिता कुमारी ने बताया कि विभिन्न भोलेन्टियर्स के द्वारा फोन कर कोरोना महामारी के समय बुजुर्गों की का हाल-चाल लिया जा रहा है और साथ ही उनकी सेहत की भी जानकारी ली जा रही है ।यदि उन्हें किसी भी तरह की समस्या होती है तो उस अनुरूप संबंधित विभाग को उनकी समस्या के समाधान हेतु मामला को रेफर कर दिया जाता है । बैठक में उप विकास आयुक्त उज्जवल कुमार सिंह, सहायक समाहर्ता खुशबू गुप्ता, अपर समाहर्ता राजेश कुमार ,डीसीएलआर पूर्वी स्वप्निल ,जिला जनसंपर्क अधिकारी कमल सिंह तथा अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Tags

Koshi Live Team

Koshilive is the first online digital magazine started in Saharsa years ago we cover special report, Breaking news from Saharsa, Supaul, Madhepura and nearby.
Back to top button
Close