Biharnewsकोशीविशेष खबर

“क्वॉरंटाईन सेंटर को बनाया यातना केंद्र”

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री सह नेता प्रतिपक्ष राबड़ी देवी ने बिहार के क्वारंटाइन सेंटरों में बाहर से आए अप्रवासी मज़दूरों के लिए खाने व अन्य बुनियादी सुविधाओं की कोई व्यवस्था को लेकर राज्य एवं केंद्र सरकार पर सवाल उठाये हैं। उन्होंने कहा कि इन प्रवासी मजदूरों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। सुविधाओं के अभाव ने क्वॉरंटाईन सेंटर को यातना केंद्र बना दिया है.

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार की ओर से मीडिया के प्रवेश को वर्जित किया गया है ताकि उनका असली चेहरा बाहर उजागर न हो सके। अधिकारी सब लूट रहा है। जनप्रतिनिधि दरकिनार है।

बदइंतज़ामी का आलम यह है कि लोग मानसिक अवसाद के शिकार होते जा रहें तो कुछ लोग वहाँ से भागने को मजबूर हो रहें।उन्होंने कहा कि इतिहास में कभी इतनी ग़रीब विरोधी और संकीर्ण मानसिकता वाली सरकार नहीं रही होगी।

बिहार सरकार प्रवासी मज़दूरों की लगातार उपेक्षा करते आ रही। क्वॉरंटीन सेंटरों में बिस्तर,  शौचालय,  पानी, खाना इत्यादि का कोई प्रबंध नहीं है। खाना के नाम पर नमक-भात, स्वास्थ्य जाँच के नाम पर काग़ज़ी ख़ानापूर्ति।ये क्वॉरंटीन सेंटर यातना सेंटर बन गये है। इस घडी में निर्दयी बिहार सरकार उनके साथ बदसलूकी की सारी हदें पार कर रही है। हम अपने ग़रीब भाइयों के साथ खड़े हैं और सरकार से आग्रह करते है कि अगले 24 घंटे में व्यवस्था सुधारें।

Tags

Koshi Live Team

Koshilive is the first online digital magazine started in Saharsa years ago we cover special report, Breaking news from Saharsa, Supaul, Madhepura and nearby.

Related Articles

Back to top button
Close