Patna

पटना में पत्रकार पर जानलेवा हमला, पुलिस ने बचाई जान

धीरज झा की रिपोर्ट

पटना : राजधानी पटना के दुल्हिन बाजार थाना क्षेत्र से एक बड़ी खबर सामने आई है। जहां एक हिंदी दैनिक अखबार के पत्रकार पर जानलेवा हमला हुआ है। घटना में घायल पत्रकार को इलाज के लिए दारोगा ने पीएचसी में भर्ती कराया है।पुलिस मामले की जांच में जुटी है। 

बताया जा रहा है दुल्हिन बाजार थाना क्षेत्र में लॉकडाउन के दौरान पशु मेला का संचालन किया जा रहा था। जिसकी खबर पत्रकार ने चलाई थी। जिसे लेकर उस पर यह जानलेवा हमला किया गया है। पत्रकार ने भाग कर किसी तरह अपनी जान बचाई है। घायल पत्रकार का नाम अनीश कुमार बताया जा रहा है। अनीश कुमार के उपर कुछ लोगों ने जानलेवा हमला किया। हालांकि पत्रकार की किस्मत अच्छी थी कि समय रहते मौके पर पुलिस पहुंच गई और उसकी जान बच गई। 

मिली जानकारी के मुताबिक मेला मालिक नरेंद्र सिंह के गुर्गो ने पत्रकार अनिश कुमार को सबसे पहले तो उन्हें गाड़ी से खींच कर पकड़ लिया गया।उसके बाद 6-7 लोगों ने उन पर ताबड़तोड़ हमला बोल दिया। पत्रकार की एक न सुनी और लगातार गाली देते हुए मारपीट करता रहा और कहता रहा कि तू बड़ा पत्रकार बन गया है तुम्हारी जान तो गई।

इस घटना में बुरी तरह से जख्मी पत्रकार को पुलिस ने आनन-फानन में इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। घटना पटना के दुल्हिनबाजार चौक की है। दुल्हिन बाजार के ऐनखां में साप्ताहिक पशु मेला लगता है। प्रशासन ने लाँकडाउन में इस तरह के आयोजन पर प्रतिबंध लगा रखा है। पशु मेला से संबंधित खबरें चलने के बाद मेला मालिक नरेंद्र सिंह के गुर्गो ने पत्रकार अनिश कुमार को बुरी तरह से पीटा। जख्मी पत्रकार को अस्पताल में इलाज चल रहा है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। दुल्हिन बाजार थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपियों की तलाश के लिए लगातार छापेमारी कर रहे हैं। आरोपियों को जल्दी ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बता दें कि अगर पुलिस मौके वारदात पर नहीं आती तो पत्रकार का जान से हाथ धोना पड़ता। दुल्हिन बाजार थाना में प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस जांच में जुटी है।

दैनिक भास्कर के पत्रकार अनीश कुमार पर शुक्रवार को सुबह बदमाशों ने हमला कर दिया और लोहे की चैन से गर्दन दबाने की कोशिश की गई। इसके बाद बदमाशों ने उनके बैग में रखे 50000 रूपये और मोबाइल छीन लिए। अनीश कुमार का पेपर का एजेंसी है। पालीगंज से लेकर मनेर तक वे अपने एजेंसी के रुपए लेकर जा रहे थे। हमला करने वाले धमकी देकर भाग निकले। बाद में पत्रकार ने इसकी शिकायत थाना में दर्ज कराई। शिकायत दर्ज होने के बाद पुलिस ने सुनील कुमार नाम के युवक से मोबाइल बरामद कर लिया है। अनीश ने बताया कि ऐनखा में लगने वाले पशु मेला में सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन की खबर छापने के बाद मेला के बुजुर्गों ने घटना को अंजाम दिया है।

इधर बिहार पत्रकार संघ के नेता सुधीर मधुकर ने डीएम और एसडीम से पशु मेला की जांच कर कार्रवाई करने की मांग की है।इधर एनखाँ में पशु मेला के मामले में डीएम कुमार रवि ने कहा कि एसडीओ से पशु मेला की रिपोर्ट मांगी गई है। मेला संचालक पर अभी पुलिस के द्वारा कुछ भी कार्रवाई नहीं की गई है।

Tags

Koshi Live Team

Koshilive is the first online digital magazine started in Saharsa years ago we cover special report, Breaking news from Saharsa, Supaul, Madhepura and nearby.

Related Articles

Back to top button
Close